December 5, 2021
Business

Paytm IPO की लिस्टिंग पर छलक पड़े विजय शेखर शर्मा के आंसू, ऐसे हुई थी पेटीएम की शुरुआत

नई दिल्ली:

Paytm के फाउंडर और सीईओ यानी चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर के लिए गुरुवार का दिन बहुत ही भावुक था। 11 साल पुरानी उनकी कंपनी आज देश में स्टॉक एक्सचेंज मार्केट में लिस्ट हो गई। जाहिर ऐसे मौकों पर जीवन भर के संघर्ष की शो रील आंखों के सामने दौड़ जाती है। पेटीएम की शुरुआत भले ही फीकी हुई हो लेकिन उनका सफल दिलचस्प नजर आता है। किसी भी कारोबारी का सपना होता है कि उसकी कंपनी को BSE में लिस्ट कराए। आज जब विजय शेखर का सपना पूरा हुआ तो वह अपने आंसुओं को रोक नहीं पाए।

पेटीएम लिस्टिंग समारोह में जैसे ही राष्ट्रगान बजना शुरू हुआ शेखर भावुक हो गए। उन्होंने हिंदी में अपना संबोधन शुरू करते हुए बताया कि राष्ट्रगान की धुन सुनकर वह भावुक हो गए थे। उन्होंने कहा कि भारत भाग्य विधाता शब्द मुझे बेहद सारगर्भित लगता है।’ रूमाल से आंखों में छलक आए आंसुओं को पोछते हुए शेखर ने बताया कि आज का दिन उनकी कंपनी के लिए क्या मायने रखता है।

लिस्टिंग से पहले विदेशी ब्रोकरेज फर्म Macquarie ने पेटीएम की पैरंट कंपनी One 97 Communications की कवरेज शुरू की थी और इसे अंडरपरफॉर्म रेटिंग दी है। Macquarie ने कंपनी के शेयर का टारगेट प्राइस 1,200 रुपये रखा है जो इश्यू प्राइस से 44 फीसदी कम है। फर्म ने कहा पेटीएम के बिजनस मॉडल में फोकस और डायरेक्शन की कमी है। कंपनी ने इसे नकदी फूंकने वाला बताया।


कैसे हुई थी पेटीएम की शुरुआत 

विजय शेखर शर्मा यूपी के अलीगढ़ में टीचर पिता और गृहिणी मां के घर जन्मे थे. उन्होंने इंजीनियरिंग कर रखी है। उन्होंने 2010 में मोबाइल रिचार्ज के प्लेटफॉर्म के तौर पर पेटीएम की शुरुआत की थी। कुछ वक्त बाद कैब एग्रीगेटर कंपनी Uber ने इसे अपने प्लेटफॉर्म पर पेमेंट ऑप्शन के तौर पर जोड़ा। हालांकि, तब पॉपुलर हो गया जब नवंबर, 2016 में भारत सरकार ने नोटबंदी की घोषणा की। उस वक्त ही सरकार डिजिटल पेमेंट को तेजी से प्रमोट करना शुरू किया और इसका सबसे ज्यादा फायदा पेटीएम को हुआ। डिजिटल इंडिया मिशन के तहत कंपनी ने पैर जमाए हैं। विजय शेखर शर्मा ने Paytm Mall और Paytm Payments Bank की स्थापना भी की है। इसके अलावा अभी उनके पास कम से कम 9 जॉब टाइटल हैं। आज उनका नेटवर्थ 2.4 बिलियन डॉलर है। Forbes के मुताबिक, वो भारत के 92वें अरबपति हैं, वहीं दुनिया के 1362वें अमीर शख्स हैं। उनकी संपत्ति का स्रोत फिन-टेक सेक्टर है।

Story Origin : नई दिल्ली

Comments

Leave a comment

HEADLINES

अलीगढ़ के डॉक्टरों ने किया कमाल, 5 महीने के मासूम के दिल-फेफड़ों को 110 मिनट रोककर दिया जीवनदान | Earthquake in Assam: असम और गुवाहाटी में लगे तेज भूकंप के झटके, जानमाल का नुकसान नहीं | किसान आंदोलनः आगे की रणनीति पर SKM की बैठक आज, कल भी होगी बैठक | जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में सुरक्षाबलों ने 1 आतंकी ढेर किया, मुठभेड़ जारी | कृषि कानूनों की वापसी BJP की चुनावी स्वार्थ व मजबूरी, ठोस फैसले लेने की जरूरत- मायावती | छत्तीसगढ़ को मिला सबसे स्वच्छ राज्य का अवार्ड, CM भूपेश बोले- महिलाओं ने बनाया नंबर-1 | सलमान खान का नया गाना 'कोई तो आएगा' रिलीज, एक्शन में भाईजान | करतारपुर साहिब के लिए रवाना हुए सिद्धू, अमृतसर आवास पर अरदास कर टेका मत्था | Bitcoin में आई बड़ी गिरावट, एक माह के निचले स्तर पर पहुंचे रेट | Lakhimpur Case: प्रियंका गांधी बोलीं- गृह राज्यमंत्री के साथ मंच साझा नहीं, उन्हें बर्खास्त करें पीएम मोदी | इंदौर ने फिर रचा इतिहास, लगातार 5वीं बार मिला देश में सबसे स्वच्छ शहर का अवॉर्ड | Rajasthan Cabinet Expansion: गोविंद सिंह डोटासरा का इस्तीफा, माकन से मिलेंगे पायलट, शपथ ग्रहण कल | वर्चुअल सुनवाई के दौरान बनियान में ही आ गया शख्स, दिल्ली HC ने लगाया 10 हजार का जुर्माना | देश भर के स्‍कूलों में जाएंगे टोक्‍यो ओलंपिक के हीरो, सरकार ने बनाया मेगा प्‍लान | स्वच्छता सर्वेक्षण: वाराणसी ने पेश की मिसाल, सबसे स्वच्छ गंगा शहर की लिस्ट में पहला स्थान मिला |