October 26, 2021
जल जंगल ज़मीन

फरीदाबाद: SC के आदेश के बाद करीब एक लाख लोग हो गए बेघर

फरीदाबाद: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बुधवार 14 जुलाई को फरीदाबाद नगर निगम के अधिकारियों ने खोरी गांव में कई घरों को ध्वस्त कर दिया। सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश के बाद 7 जून से ये तोड़फोड़ का अभियान शुरू हुआ था। बुधवार को डॉ अंशु सिंगला डीसीपी एनआईटी ने जानकारी देते हुए बताया कि नगर निगम आयुक्त डा. गरिमा मित्तल सहित एमसीएफ का तोड़-फोड़ दस्ता 17 जेसीबी के साथ अतिक्रमण हटाने के लिए खोरी गांव में पहुंचा। खोरी क्षेत्र में वन भूमि से अवैध अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की गई। पहले दिन की कार्रवाई के लिए जितना लक्ष्य रखा गया था उसे पूरा कर लिया गया है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश की पालन में यह कार्रवाई जारी रहेगी तब तक एमसीएफ दस्ते को आवश्यक सुरक्षा दी जाएगी और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए असामाजिक तत्वों से सख्ती से निपटा जाएगा।

आपको बता दे सुप्रीम कोर्ट ने जून में नगर निगम को गांव खाली करने के लिए छह सप्ताह का समय दिया था। क्विंट से बात करते हुए, गांव की निवासी रेखा ने कहा कि जिन घरों को खाली नहीं किया गया था और लोग उनमें अभी भी रह रहे थे उनमें से कई घरों को अधिकारियों ने ध्वस्त कर दिया। वो भी ग्रामीणों के लिए बिना किसी ठोस पुनर्वास योजना बनाए। "भारी पुलिस की तैनाती है और ग्रामीणों को तोड़फोड़ वाली जगह जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है. कई ऐसे घर हैं जहां लोग अभी भी रह रहे थे। उनके पास रहने के लिए कोई जगह नहीं है।"

फरीदाबाद नगर निगम ने मंगलवार को 'खोरी झुग्गी निवासियों के पुनर्वास के लिए नीति' की घोषणा की, ये केवल उन निवासियों पर लागू होगा जिनकी वार्षिक आय 3 लाख रुपये तक है और उन्होंने तीन शर्तों में से एक को पूरा किया हो:

1. अगर परिवार के मुखिया का नाम 1 जनवरी 2021 तक बड़कल विधानसभा क्षेत्र की मतदाता सूची में दर्ज है।

2. अगर परिवार के मुखिया के पास 1 जनवरी 2021 तक हरियाणा द्वारा जारी पहचान पत्र है।

3. अगर परिवार के किसी सदस्य के पास डीएचबीवीएन द्वारा जारी बिजली कनेक्शन है।

इस नीति के अनुसार, इन परिवारों को डबुआ कॉलोनी और बापू नगर में ईडब्ल्यूएस फ्लैटों में स्थानांतरित किया जाएगा। इससे पहले, 30 जून को, पुलिस ने अंबेडकर पार्क में होने वाली एक महापंचायत से पहले भगत सिंह छात्र एकता मंच के नेता रविंदर और राजवीर कौर सहित कई प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया था।

Story Origin : Faridabad

Comments

Leave a comment

HEADLINES

Lakhimpur Kheri violence : कांग्रेस ने 4 किसान, 1 पत्रकार के परिजनों को दी 1 करोड़ की मदद | UP Board Exam 2022: यूपी बोर्ड परीक्षा 2022 के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 8 नवंबर तक बढ़ी | UP: योगी सरकार अब माफियाओं से खाली कराई गई जमीन पर बनाएगी सस्ते घर, गरीबों और कर्मचारियों को मिलेगा लाभ | Gorakhpur : नशे में धुत दबंगों ने पुलिसकर्मी को लाठी-डंडों से पीटा | Kisan Andolan: योगेंद्र यादव के निलंबन पर राकेश टिकैत की दो टूक, बोले- 40 लोगों की कमेटी का फैसला सही | हरियाणा: पतंजलि गोदाम में काम करने के बाद घर लौट रहे 3 युवकों की सड़क हादसे में मौत | UP Assembly Elections: यूपी चुनाव को लेकर कांग्रेस की अहम बैठक आज, महिला उम्मीदवारों को दी जाएगी प्राथमिकता | बॉलीवुड एक्ट्रेस मीनू मुमताज का कनाडा में निधन, मीना कुमारी ने रखा था इनका नाम | हिमाचल में फिर बढ़े दाम, शिमला में 105 रुपये के करीब पहुंचा पेट्रोल | 14 साल के लड़के को मिला 100 साल पुराना लव लेटर, लिखा था- 'चुपके से आधी रात में आना मिलने' | लहंगे में छुपाकर ऑस्‍ट्रेलिया भेजी जा रही थी सुडोफेड्रीन ड्रग्‍स, NCB ने पकड़ा | COVID-19 in India: 24 घंटे में कोरोना के 16326 नए मामले, केरल ने मौत के आंकड़े जोड़े तो बढ़ी धड़कन | ICC T20 WC: भारत पाकिस्तान मैच पर लगा 1000 करोड़ रुपये का सट्टा, एंटी करप्शन यूनिट मुस्तैद | बच्चों की कोरोना वैक्सीन पर अदार पूनावाला बोले- हम जल्दबाजी नहीं करेंगे | NCB की रडार पर 'प्रसिद्ध हस्ती' का नौकर, अनन्या पांडे के कहने पर आर्यन खान तक ड्रग्स पहुंचाने का शक |