October 26, 2021
जल जंगल ज़मीन

उत्तराखंड में सड़क चौड़ीकरण को लेकर 3 महीने से चल रहा है आंदोलन पर कोई सुनवाई नहीं

देहरादून: उत्तराखंड के ग्रामीण इलाकों में बुनियादी सुविधाओं के लिए लोग आज भी संघर्ष कर रहे हैं। विकास की रफ्तार इतनी कम है कि राज्य बनने के 20 साल बाद भी वो गांवों तक नहीं पहुंच पाया है। अब अपनी एक बुनियादी मांग को लेकर चमोली जिले में स्थित नंदप्रयाग इलाके के लोग पिछले 109 दिनों से आंदोलन कर रहे हैं। उनकी मांग है कि नंदप्रयाग-घाट मोटरमार्ग को डेढ़ लेन चौड़ा कर दिया जाए। इसके लिए जब ग्रामीणों ने अस्थाई विधानसभा गैरसैण में बजट सत्र के दौरान प्रदर्शन किया तो उन पर जमकर लाठी चार्ज किया गया। तब त्रिवेंद्र सिंह रावत सीएम थे और इस घटना को लेकर उनकी जमकर आलोचना हुई थी। यहां तक कि ये भी कहा गया कि उन्हें हटाए जाने के कारणों में ये लाठीचार्ज की घटना भी शामिल थी। 

ग्रामीणों का आरोप है कि सरकार ने पहले ग्रामीणों की इस मांग को मानते हुए ऐलान कर दिया, लेकिन बाद में नियमों का हवाला देते हुए मुकर गई। कई बार क्षेत्रीय लोग मुख्यमंत्री और बीजेपी सरकार के तमाम मंत्रियों से मिले, लेकिन कहीं सुनवाई नहीं हुई। आखिरकार ग्रामीणों ने सड़क चौड़ीकरण को लेकर आंदोलन छेड़ दिया।

ग्रामीणों के विरोध के बाद सरकार की तरफ से शासनादेश बताया गया कि जिस सड़क पर 3 हजार गाड़ियां नहीं चलती हैं, वहां डेढ़ लेन का चौड़ीकरण नहीं हो सकता है। वहीं जिस सड़क पर 8 हजार गाड़ियां प्रतिदिन नहीं चलती हैं, उसमें डबल लेन नहीं किया जा सकता। विभाग ने कई बार प्रदर्शनकारी ग्रामीणों को शांत करने के लिए अलग-अलग तरह के वादे किए, कभी कहा गया कि विधायक निधि से इसे कराया जाएगा तो कभी डामरीकरण की बात कही गई। जो हमें मंजूर नहीं था।

ग्रामीणों का कहना है कि सरकार अब नियमों का हवाला देकर अपनी नाकामी को छिपाना चाहती है। लेकिन अगर सीएम और सरकार चाहें तो ये काम हो सकता है। हजारों ग्रामीण 3 महीने से प्रदर्शन कर रहे हैं, ऐसे में सरकार को मांग पूरी करनी चाहिए। ग्रामीणों की मांग है कि सड़क को 6 मीटर से 9 मीटर कर दिया जाए। जिससे हर साल होने वाली दुर्घटनाओं में कमी आए।

इस नंदप्रयाग घाट सड़क पर 3 हजार गाड़ियां नहीं चलती हैं, लेकिन जब दिवालिखाल-भराड़ीसैण वाली सड़क, जो विधानसभा को जाती है, उसे डबल लेन की स्वीकृति कैसे मिल गई। हम जिस सड़क की मांग कर रही हैं वो करीब 70 हजार लोगों को कनेक्ट करती है. घाट ब्लॉक के 55 गांव, कर्णप्रयाग विकासखंड के एक दर्जन गांव और करीब 15 गांव और हैं। जिस मानक के अनुसार दिवालिखाल-भराड़ीसैण मोटरमार्ग को डबल लेन बनाया जा रहा है ,उसी मानक से नंदप्रयाग घाट सड़क को भी डेढ़ लेन चौड़ा बनाया जाए।

ग्रामीणों का कहना है कि इसी मोटर मार्ग से नंदा राजजात यात्रा निकाली जाती है, जिसे पहाड़ का महाकुंभ कहा जाता है। अब 2024 में ये यात्रा होनी है. मां नंदादेवी की डोली कुरुड़ मंदिर से ही निकलती है, जो इसी क्षेत्र में है। इसीलिए इस मार्ग का चौड़ीकरण किसी भी हाल में होना चाहिए।


क्या है पूरा मामला?

इस आंदोलन में हिस्सा ले रहे ग्रामीण लक्ष्मण राणा ने हमें बताया कि मामला 2017 का है। जब बीजेपी की सरकार बनी थी और त्रिवेंद्र सिंह रावत सीएम बने थे. तब उन्होंने जनता की मांग पर ये ऐलान किया था कि नंदप्रयाग-घाट मोटरमार्ग का डेढ़ लेन चौड़ीकरण किया जाएगा। इसे लेकर जीओ भी जारी हुआ था और 2018 में वित्तीय स्वीकृति भी मिल गई थी। इस दिशा में काम शुरू हो चुका था और पेड़ों की गिनती भी हो चुकी थी। भूमि हस्तांतरण की कार्यवाही भी शुरू हो चुकी थी। लेकिन अचानक से काम को रोक दिया गया। 
 

Story Origin : उत्तराखंड

Comments

Leave a comment

HEADLINES

Lakhimpur Kheri violence : कांग्रेस ने 4 किसान, 1 पत्रकार के परिजनों को दी 1 करोड़ की मदद | UP Board Exam 2022: यूपी बोर्ड परीक्षा 2022 के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 8 नवंबर तक बढ़ी | UP: योगी सरकार अब माफियाओं से खाली कराई गई जमीन पर बनाएगी सस्ते घर, गरीबों और कर्मचारियों को मिलेगा लाभ | Gorakhpur : नशे में धुत दबंगों ने पुलिसकर्मी को लाठी-डंडों से पीटा | Kisan Andolan: योगेंद्र यादव के निलंबन पर राकेश टिकैत की दो टूक, बोले- 40 लोगों की कमेटी का फैसला सही | हरियाणा: पतंजलि गोदाम में काम करने के बाद घर लौट रहे 3 युवकों की सड़क हादसे में मौत | UP Assembly Elections: यूपी चुनाव को लेकर कांग्रेस की अहम बैठक आज, महिला उम्मीदवारों को दी जाएगी प्राथमिकता | बॉलीवुड एक्ट्रेस मीनू मुमताज का कनाडा में निधन, मीना कुमारी ने रखा था इनका नाम | हिमाचल में फिर बढ़े दाम, शिमला में 105 रुपये के करीब पहुंचा पेट्रोल | 14 साल के लड़के को मिला 100 साल पुराना लव लेटर, लिखा था- 'चुपके से आधी रात में आना मिलने' | लहंगे में छुपाकर ऑस्‍ट्रेलिया भेजी जा रही थी सुडोफेड्रीन ड्रग्‍स, NCB ने पकड़ा | COVID-19 in India: 24 घंटे में कोरोना के 16326 नए मामले, केरल ने मौत के आंकड़े जोड़े तो बढ़ी धड़कन | ICC T20 WC: भारत पाकिस्तान मैच पर लगा 1000 करोड़ रुपये का सट्टा, एंटी करप्शन यूनिट मुस्तैद | बच्चों की कोरोना वैक्सीन पर अदार पूनावाला बोले- हम जल्दबाजी नहीं करेंगे | NCB की रडार पर 'प्रसिद्ध हस्ती' का नौकर, अनन्या पांडे के कहने पर आर्यन खान तक ड्रग्स पहुंचाने का शक |