October 26, 2021
जल जंगल ज़मीन

देश के अन्नदाता अपने अधिकार के लिए अहंकारी मोदी सरकार के ख़िलाफ़ सत्याग्रह कर रहे हैं- राहुल गाँधी

नई दिल्ली-  किसान नेताओं और सरकार के बीच 15 जनवरी नौवें दौर की बातचीत के बीच कांग्रेस ने भी कृषि कानूनों के खिलाफ मोर्चा खोला, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के घर के बाहर प्रदर्शन किया, राहुल गांधी ने कहा कि 'तीनों कानून किसानों को खत्म करने के लिए लाए गए हैं,  यहां मौजूद राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ वापस चले गए, लेकिन प्रियंका ने लोगों को संबोधित नहीं किया, तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को रद करने की मांग को लेकर सिंघु बॉर्डर पर चल रहा किसानों का धरना शुक्रवार को 51वें दिन में प्रवेश कर गया।

इस बीच कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन के लिए प्रदेश कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ता चंदगीराम अखाड़े पर इकट्ठा हैं। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अनिल चौधरी सहित  कांग्रेस के तमाम नेता, जिला अध्यक्ष और ब्लॉक स्तरीय नेता भी यहां मौजूद हैं, राज निवास के बाहर प्रदर्शन की अगुवाई करते हुए राहुल गांधी ने कहा, "बीजेपी सरकार को कृषि कानूनों को वापस लेना ही होगा, जब तक ये कानून निरस्त नहीं होंगे, तब तक कांग्रेस पीछे नहीं हटेगी, ये कानून किसानों की मदद के लिए नहीं हैं, बल्कि उन्हें खत्म करने के लिए हैं।  

राहुल गांधी ने आरोप लगाया, "नरेंद्र मोदी सरकार ने पहले भी भूमि अधिग्रहण कानून लाकर किसानों की जमीन छीनने की कोशिश की थी और उस समय कांग्रेस पार्टी ने उन्हें रोका था, अब बीजेपी और उसके दो-तिहाई दोस्त एक बार फिर किसानों को निशाना बना रहे हैं और इन तीन कृषि कानूनों को लेकर आए हैं। 

बीजेपी सरकार को कृषि कानूनों को वापस लेना ही होगा, जब तक ये कानून निरस्त नहीं होंगे, तब तक कांग्रेस पीछे नहीं हटेगी

राज निवास मार्च से पहले राहुल गांधी ने ट्वीट किया, "देश के अन्नदाता अपने अधिकार के लिए अहंकारी मोदी सरकार के ख़िलाफ़ सत्याग्रह कर रहे हैं, आज पूरा भारत किसानों पर अत्याचार व पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते दामों के विरुद्ध आवाज़ बुलंद कर रहा है। 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ दिल्ली में राज भवन का घेराव कर रहे है, वहीं राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा सरकार को कृषि कानूनों को वापस लेना होगा, कांग्रेस तब तक भरोसा नहीं करेगी, जब तक इन कानूनों को रद्द नहीं किया जाता।  

Story Origin : नई दिल्ली

Comments

Leave a comment

HEADLINES

Lakhimpur Kheri violence : कांग्रेस ने 4 किसान, 1 पत्रकार के परिजनों को दी 1 करोड़ की मदद | UP Board Exam 2022: यूपी बोर्ड परीक्षा 2022 के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 8 नवंबर तक बढ़ी | UP: योगी सरकार अब माफियाओं से खाली कराई गई जमीन पर बनाएगी सस्ते घर, गरीबों और कर्मचारियों को मिलेगा लाभ | Gorakhpur : नशे में धुत दबंगों ने पुलिसकर्मी को लाठी-डंडों से पीटा | Kisan Andolan: योगेंद्र यादव के निलंबन पर राकेश टिकैत की दो टूक, बोले- 40 लोगों की कमेटी का फैसला सही | हरियाणा: पतंजलि गोदाम में काम करने के बाद घर लौट रहे 3 युवकों की सड़क हादसे में मौत | UP Assembly Elections: यूपी चुनाव को लेकर कांग्रेस की अहम बैठक आज, महिला उम्मीदवारों को दी जाएगी प्राथमिकता | बॉलीवुड एक्ट्रेस मीनू मुमताज का कनाडा में निधन, मीना कुमारी ने रखा था इनका नाम | हिमाचल में फिर बढ़े दाम, शिमला में 105 रुपये के करीब पहुंचा पेट्रोल | 14 साल के लड़के को मिला 100 साल पुराना लव लेटर, लिखा था- 'चुपके से आधी रात में आना मिलने' | लहंगे में छुपाकर ऑस्‍ट्रेलिया भेजी जा रही थी सुडोफेड्रीन ड्रग्‍स, NCB ने पकड़ा | COVID-19 in India: 24 घंटे में कोरोना के 16326 नए मामले, केरल ने मौत के आंकड़े जोड़े तो बढ़ी धड़कन | ICC T20 WC: भारत पाकिस्तान मैच पर लगा 1000 करोड़ रुपये का सट्टा, एंटी करप्शन यूनिट मुस्तैद | बच्चों की कोरोना वैक्सीन पर अदार पूनावाला बोले- हम जल्दबाजी नहीं करेंगे | NCB की रडार पर 'प्रसिद्ध हस्ती' का नौकर, अनन्या पांडे के कहने पर आर्यन खान तक ड्रग्स पहुंचाने का शक |